other  News 

उन्नाव केस पर फूटा अखिलेश यादव का गुस्सा, बोले- वो तो कहते थे ठोक देंगे...

  • उन्नाव गैंगरेप को लेकर अखिलेश ने दिया धरना
  • विधानसभा के सामने धरने पर बैठे अखिलेश यादव

उन्नाव गैंगरेप की पीड़िता का दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में देर रात निधन हो गया. इस घटना के बाद पूरे देश में आक्रोश देखने को मिल रहा है. उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव विधानसभा के सामने धरने पर बैठे हैं. अखिलेश यादव के साथ उनकी पार्टी के कई वरिष्ठ नेता भी धरने पर बैठे हैं.

अखिलेश यादव ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि देश हैदराबाद की घटना को लेकर गुस्से में था. खासकर बहनें और माताएं. और उसके बाद उन्नाव की घटना उसी तरह से हुई. उन्नाव की घटना बीजेपी सरकार में पहली नहीं है. जो बेटी के साथ हुआ. वह बहादुर थी. उसकी आखिरी शब्द थे की वह जिंदा रहना चाहती थी. सफदरजंग के डॉक्टरों की कोशिशों के बाद भी उसकी जान नहीं बच पाई. हमारे लिए यह काला दिवस है. एक बेटी जो न्याय मांग रही थी हम उसे न्याय नहीं दे पाए.

उन्होंने आगे कहा कि उत्तर प्रदेश की मौजूदा सरकार के राज में यह पहली घटना नहीं है. याद कीजिए जब मुख्यमंत्री आवास के सामने एक बेटी न्याय मांग रही थी और उसे आत्मदाह की कोशिश करनी पड़ी तब जाकर मुकदमा लिखा गया. याद कीजिए बाराबंकी के उस बेटी की घटना जो यहीं मुख्यमंत्री आवास पर आई थी न्याय मांगने के लिए. उसने भी आत्मदाह किया और बाद में उसकी जान नहीं बची. उन्नाव की एक बेटी का तो पूरा परिवार खो दिया. कौन दोषी था, भारतीय जनता पार्टी की सरकार दोषी थी. यह बेटी जिसकी जान गई है तो उसके भी कोई दोषी हैं तो वह सरकार है क्योंकि सरकार की जानकारी में था.



Reported By:Surendra



Indian news TV