Religious  News 

 बनते काम बिगड़ जाते हैं तो बाहर निकलने से पहले करें यें 9 उपाय


आज के समय में ऐसा कोई व्यक्ति नहीं जिसके पास कोई परेशानी या मुसीबत ना हों। परेशानी आना स्वाभाविक है परन्तु इनका आना किसी को अच्छा नहीं लगता। यह सच है कि मुसीबतें हमारे पास बिना बुलाए चली आती है। परेशानियों से जीवन रुकता तो नहीं परन्तु बाधित अवश्य हो जाता है। इसके साथ ही यह हमारी प्रसन्नता और खुशी को प्रभावित अवश्य करती है। कई बार इनके कारण हम उदास तो होते ही और तनावग्रस्त भी हो जाते हैं। जहां समस्या हैं वही तलाशने से उसका समाधान भी निकल ही आता है। जिन व्यक्तियों को जीवन में बार बार कोई न कोई समस्या परेशान करती ही रहती हैं ऐसे व्यक्तियों का निराश और हताश होना स्वाभाविक है। यदि आपके भी जीवन में समस्या सामान्य से अधिक आ रही हों तो घर से बाहर निकलते समय कुछ उपाय अवश्य करने चाहिए। इन उपायों से समस्याओं में कमी जरुर होती है और समस्याओं का हल भी जल्द निकल आता है। आज इस आलेख में हम आपको कुछ इसी तरह के उपाय बताने जा रहे हैं जिन्हें कर आप सफलता प्राप्त कर सकते हैं-
 

  1. दायां पैर सर्वप्रथम बाहर निकालें
  2. किसी भी महत्वपूर्ण कार्य पर जाते समय यह ध्यान रखें कि सदैव दायां पैर ही बाहर निकालें। दायां पैर बाहर निकालना अतिशुभ माना जाता है। ऐसा करने पर कार्य जल्द बनते हैं और सफलता प्राप्त होती है।  
  3. कार्यों के मध्य आने वाली बाधाओं को दूर करने के लिए नित्य प्रात: स्नानादि कार्यों से मुक्त होकर गीता के 11वें अध्याय का पाठ करना कार्यों की बाधाओं को दूर करता है। इससे समस्याओं का समाधान तो जल्द होता ही है साथ ही काम भी सहजता से पूरे होते हैं।
  4. परिवारिक में सुख-शांति और बाधारहित जीवन के लिए घर में श्यामा तुलसी का पौधा लगाना शुभ और अनुकूल माना जाता है। सायंकाल में तुलसी जी का पूजन शुद्ध घी का दीपक जलाकर करना चाहिए।
  5.  यह उपाय लगातार करने से कार्यों में भाग्य का सहयोग प्राप्त होता है तथा जल्द ही समस्याओं का समाधान निकलना सहज होता है।  
  6.  घर से बाहर किसी भी जरुरी काम से बाहर जाते समय यह ध्यान रखना चाहिए कि कौन सी नासिका से श्वास तीव्र गति से बाहर आ रही हैं। यह माना जाता है कि नासिका के जिस भाग से श्वास तीव्र गति से बाहर आ रहा हो उस दिशा का पैर बाहर निकालना अनुकूल रहता है।
  7.  कार्यों से बाधाओं को दूर करने के लिए सुबह कार्य पर जाते समय हनुमान मंदिर होते हुए जाएं। कार्यों से पूर्व हनुमान जी का दर्शन-पूजन करना और हनुमान जी की प्रतिमा का सिंदूर लगाकर पूजन करें। इसके साथ ही यह देवी सीता के सामने अपनी समस्या करें और समस्या के निवारण के लिए हनुमान जी की प्रतिमा का सिंदूर माता सीता के चरणों में लगाएं। यह उपाय लगातार ९ दिन करने से अधिकतर सभी समस्याओं का समाधन हो जाता है।
  8.   जब किसी आवश्यक कार्य से जा रहे हैं तो घर से बाहर निकलने से पहले देवी भगवती दुर्गा को लगातार २१ दिन तक गहरे लाल रंग के फूल अर्पित करें और धूप-दीप करते हुए दुर्गा जी के बीज मंत्र का जाप करें। मंत्र संख्या १०८ बार है।
  9. प्रात: पूजन करते समय शुद्ध घी का दीपक जलाकर उसमें दो साबुत लौंग डालें। इस प्रकार यह उपाय करने से कार्यों की रुकावटें दूर होती हैं और कार्य सरलता से पूरे होते हैं।  
  10. यह माना जाता है कि जब भी घर से बाहर किसी कार्य से जा रहें हैं तो मीठी दही खाकर निकलें यह कार्य बाधाओं में कमी कर भाग्य को प्रबल करता है।


  
ज्योतिष आचार्या रेखा कल्पदेव
“श्री मां चिंतपूर्णी ज्योतिष संस्थान
5, महारानी बाग, नई दिल्ली -110014
8178677715, 9811598848
 
 ज्योतिष आचार्या रेखा कल्पदेव कुंडली विशेषज्ञ और प्रश्न शास्त्री
8178677715, 9811598848

 
ज्योतिष आचार्या रेखा कल्पदेव पिछले 15 वर्षों से सटीक ज्योतिषीय फलादेश और घटना काल निर्धारण करने में महारत रखती है. कई प्रसिद्ध वेबसाईटस के लिए रेखा ज्योतिष परामर्श कार्य कर चुकी हैं। आचार्या रेखा एक बेहतरीन लेखिका भी हैं। इनके लिखे लेख कई बड़ी वेबसाईट, ई पत्रिकाओं और विश्व की सबसे चर्चित ज्योतिषीय पत्रिकाओं  में शोधारित लेख एवं भविष्यकथन के कॉलम नियमित रुप से प्रकाशित होते रहते हैं। जीवन की स्थिति, आय, करियर, नौकरी, प्रेम जीवन, वैवाहिक जीवन, व्यापार, विदेशी यात्रा, ऋण और शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य, धन, बच्चे, शिक्षा, विवाह, कानूनी विवाद, धार्मिक मान्यताओं और सर्जरी सहित जीवन के विभिन्न पहलुओं को फलादेश के माध्यम से हल करने में विशेषज्ञता रखती हैं।



Reported By:Acharya Rekha Kalpdev



Indian news TV